Archive - 3 months ago

Ethics My Today's experience

क्या सब बच्चों में बराबरी ज़रुरी है?उम्मे ख़ालिद, अनुवाद: वसी मियां ख़ान

जब पहली पहल मेरे एक से ज़्यादा बच्चे हो गये तो मेरा पूरा ध्यान इस बात पर था कि सब बच्चों के साथ बराबरी का मामला किया जाये। ये बात मेरे दिमाग में घर कर गई थी कि...

Facebook

SuperWebTricks Loading...

search by date

June 2020
M T W T F S S
« May   Jul »
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930